मेरी चाची बड़ी निकम्मी–2


Click to Download this video!

गतान्क से आगे………….. मेरी चाची बड़ी निकम्मी–1

फूफा: “तो क्या..कह देते हल्दी लगा रहे थे”

चाची: “हमे नही लगवानी आपसे हल्दी…हमारी तो जान ही निकल दी आपने”

फूफा: “तुम्हारा इतने मे ही दम निकल गया…अगर थोड़ी देर और पकड़ के रखता तो?”

चाची: “हम तो बेहोश ही हो जाते”

फूफा: “अर्रे पकड़ने से भी कोई बेहोश होता है, उसके लिए तो हमे और भी कुछ करना पड़ता”

चाची: “छी कितनी गंदी बाते करते है आप..बड़े बेशरम हो”

इतना बोलते हुए चाची भी कमरे बाहर निकल आई पर नज़र फूफा पर ही थी फूफा भी मुस्कुराते हुए चाची को ही देख रहे थे, मे समझ नही पा रहा था कि चाची को ये सब अच्छा लग है या चाची बड़ी भोली है. थी. हल्दी से फूफा का चेहरा पहचान मे नही आ रहा था, हम सब बच्चे वान्हा मज़े कर रहे थे और बाकी लोगो को हल्दी लगाने मे हेल्प कर रहे थे बड़ा मज़ा आ रहा था, धीरे धीरे शाम होने आई और सब लोग शांत होने लगे और अपना अपना चेहरा धोने लगे, फूफा नल के पास खड़े थे और साबुन (सोप) माँग रहे थे, तभी मैने चाची से कहा फूफा साबुन माँग रहे है, चाची साबुन ले कर नल के पास पहुँची फूफा को देख कर हस्ने लगी.

चाची: “दूल्हे से ज़्यादा हल्दी तो आप को ही लगी है राजेसजी”

फूफा: “लगाने वाली भी तो तुम ही हो”

चाची: “तो क्या कमल से लगवाना था”

फूफा: “कमल एक बार लगा भी देती तो क्या फरक पड़ता, हम तो कमल को रोज लगाते है”

चाची: “हाए..राजेसजी ये क्या कह रहे है आप”

फूफा: “अर्रे मे तो हल्दी की बात कर रहा हूँ तुमने क्या समझ लिया”

चाची: “जी..कुछ नही..अप बड़े वो है”

यह कहानी भी पड़े प्रिंसपल की सेक्सी बेटी ने मुझसे चुदवाया और मुझे अपनी चूत भी चटाई

और चाची वान्हा से शर्मा के भागने लगी, फूफा ने चाची का हाथ पकड़ लिया रोका और कहा “अर्रे जा कहाँ रही हो, ज़रा इस हल्दी को तो साफ करने मे मदद कर दो, थोड़ा पानी दो ताकि मे अपना चेहरा धोलु” चाची नल से एक लोटे मे पानी लेकर उन्हे हाथ पर पानी डाल रही थी और फूफा चेहरा धो रहे थे, पानी डालते समय चाची नीचे झुकी हुई थी और उनका पल्लू नीचे हो गया था जिसे उनकी गोरी गोरी चूंची (बूब्स क्लीवेज) दिख रही थी, झुकने कारण बूब्स और भी बड़े दिख रहे थे, फूफा भी झुक कर अपना चेहरा धो रहे थे और उनकी नज़र बार बार चाची के चूंची पर जा रही था, फिर चाची को एहसास हुआ कि उनकी चूंची ब्लाउस से बार आ रही है तो उन्होने तुरंत पल्लू से ढक लिया, इस दरमियाँ फूफा और चाची की नज़र एक दूसरे मिल गयी फूफा मुस्कुरा रहे थे, चाची तो शरम से पानी पानी हो रही और चाची ने एक टवल फूफा को दिया, पर फूफा ने जान बूझ कर टवल लेते समय गिरा दिया चाची फाटसे लेने के लिए नीचे झुकी और उनकी चूंचिया का दर्शन फिर से फूफा को हुआ. चाची शरमाते हुए बोली “राजेसजी आप भी ना. बहुत परेशन करते है” फूफा बोले “ठीक है अगली बार परेशन करने से पहले पूछ लूँगा… कि आप को करूँ या नही?”

फूफा दुबले मीनिंग मे बात कर रहे थे, जो चाची सब समझ रही थी.

चाची: “हमे परेशान करने के लिए पहले से कोई है”

फूफा: “कॉन है..जो आपको परेशान करता हमे बताओ उसकी खबर लेते है”

चाची: “आए बड़े खबर लेने वाले, साल मे एक बार तो चेहरा दिखाते है, आप देल्ही अपने भाई के ससुराल आए थे, हफ्ते भर वान्हा रहे पर एक बार भी हमारे घर नही आए”

यह कहानी भी पड़े रंडी पोलिसेवली औरत से हॉट चुदाई

फूफा: “अर्रे वो..मे घूमने नही आया था छोटे भाई के ससुर हॉस्पितल मे अड्मिट थे इस लिए उन्हे देखने गया था”

चाची: “तो क्या एक दिन भी आपको समय नही मिला”

फूफा: “अर्रे नाराज़ क्यूँ होती हो, इस बार आउन्गा मे और हफ्ते भर रहूँगा देखता हू कितनी खातिरदारी होती है”

चाची: “वो तो आने पर हो पता चलेगा”

तभी मा ने उपर से आवाज़ दी, चाची फिर उपर सीढ़ियों से जाने लगी फूफा वन्हि खड़े उनके मोटे चूतर और कमर को हिलता हुआ देख रहे थे, मे वन्हि खड़ा ये सब देख रहा था.फिर फूफा दालान मे चले गये. इस के बाद भी कई बार फूफा को चाची से मज़ाक करते देखा पर मुझे ये सब नॉर्मल लगा.

पर एक दिन मे उनका ये मज़ाक समझ नही पाया, मे बुआ के कमरे था फूफा भी टेबल पर बैठ कर कुछ लिख रहे थे, मे उनसे काफ़ी दूरी पर था और खिड़की से नीचे दालान की तरफ देख रहा था, तभी चाची वान्हा आई शायद उन्हे कुछ लेना था, अंदर आते ही उनकी नज़र फूफा पर पड़ी उन्होने एक शरारती मुस्कान देते हुए फूफा के पास से गुज़री फूफा भी मुस्कुराते हुए देख रहे थे, चाची नीचे झुक कर एक बोरे से चने की दाल निकाल रही थी, झुकने से उनके चूतर काफ़ी कामुक लग रहे थे और चूतर की दरार (आस क्रॅक) दिख रही थी. फूफा की तो नज़र ही नही हट रही थी उनके चूतर से, चाचीने भी एक दो बार घूम कर फूफा को देखा, फूफा ने पूछा “क्या निकाल रही हो?”

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2 3 4

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


हिन्दी सेक्स कहानी मामा जी से चोदindian saxy bhabhi full hd pron video bhabhi ka bhi chutna chaiye or man ka bhiसेक्स माँ से ऑनलाइन चीटिंग चुदाई सेक्स कहनीसेक्सी हिंदी कहानीdipalibahu ki chut sasur ka londatai ki saxe storeaunty ki chudai me cockroach ghus Gaya Hindi sex storyaunty ki chudai me cockroach ghus Gaya Hindi sex storyचुचीDelhi university girls hostel pati injay sex anravasna sex sorty handi pik Randi ki khahani.pdf downloadmeri bhabhi ke kamuk uroj hindi sex storybin mange chut mil gyiगुदा में उंगली करनालड की भुखी लडकिया AntarvasnaRas bhari gudaj gaandKrim laga ke sex storianravasna sex sorty handi pik Randi ki khahani.pdf downloadadla badli pati patni sex story antarvasna in hindiतृप्ती दिदि सेक्स काहानिbhai behan ke chodneki kahaniya avaje nikalke chndnapadosi ladki antervasna rajayiसास की चूतअनजान के साथ मेरी चुदाईbur bule film gandi hindi hot mast bahen ki suhagraatसेक्स कहानी बुआ सिस्टर मामि मा को ब्रा पसंत है सेक्सी हिंदी कहाणीसेक्स stories बाथरूम में माँ ko नाहटा dikhaसंकरी चुतबुर चोदाईwwwxxx.xv.and.hindi.storisमालकिन की चूदाई जोर जोर सेbehan ki nukili chuchiबुर मेँ लंडनदी किनारे सेक्स स्टोरी हिन्दीhindi sex storx thakur pariwarहम तो चुदवायेगीbahnkr.jag.cudai.kahnyaदीदी चोद लेने दोSezy story with mameri bhabiचुत,neharani ki chudai storyचुदक्कड बहन कीSex story hidin.माँ ने चुदवाया Storiestaiji ki chudai viagra khila ke मेरी सुहागरातpayal ki samuhik chudaiबुआ के साथ शेकश कहानीमा कि गान्ड मे लोडेsexbaba.net बहु ससुर की चुदाई की कहानीलुधियानाकी देशी चूत बिडियोDevar bhabhi ki chudai sekhon Hindi sex video xxxसेक्स कहानी एक दूजे के लिएxxxvideostorihindipani me tierna sikhane ke bhane chodaVideshi ladki ki gaand chaati aur shit khai storyकुँवारी बहन के बोबेNauvi kaksha ki antarvasnaBiwikanangabadan.Sex bare chuchi and chut or bare landमा कीगहरी नाभि को चूमाnew sixe kahani padni h chut chudai mastअंकल के साथ ड्रिंक चुदाई २चुतप मारते विडयोsex story ताई hindiपानी मेsexphim sex chi em nha kieu 2016अन्तर्वासना सेक्सी सफर कहनिया ट्रैन मईकोमल मेरी हस्तमैथुन करने की स्टोरीAntarvasna gaand me dildo lasbo